महासुदर्शन घनवटी के नुकसान और फायदे

QuestionsCategory: Questionsमहासुदर्शन घनवटी के नुकसान और फायदे
Quiz Staff asked 4 weeks ago

महासुदर्शन घनवटी के नुकसान और फायदे बैद्यनाथ महासुदर्शन वटी के फायदे पतंजलि महासुदर्शन घनवटी के फायदे महासुदर्शन घन वटी के नुकसान डाबर महासुदर्शन टेबलेट्स पतंजलि महासुदर्शन घन वटी सुदर्शन वटी के बारे में बताएं महासुदर्शन घन वटी Patanjali price महासुदर्शन घन वटी टाइफाइड के लिए

1 Answers
Sehat Ka Raj Staff answered 4 weeks ago

महासुदर्शन घनवटी किसी भी प्रकार की बुखार में यानि फीवर में काफी ज्यादा यूजफुल मेडिसन है ये क्रोनिक फीवर यानि जिन लोगो को कितना भी पुराना बुखार हो या फिर किसी भी प्रकार का बुखार हो उसे ये जड़ से खत्म करने में काफी जबरदस्त तरीके से काम करती है.
बुखार चाहे किसी भी प्रकार का हो चाहे चिकनगुनिया का हो ,चाहे मलेरिया का हो ,चाहे डेगू का हो , या कितने भी लंबे समय से चला आ रहा बुखार हो ,वायरल फीवर हो या बैक्टीरियल फीवर हो किसी भी प्रकार का बुखार हो उसमें ये काफी फायदेमंद मेडिसन है । इसके अलावा कुछ लोगों को जैसे ही मौसमचेंज होने लगता है यानी जैसे ही सीजन चेंज होता है तो वे बार-बार बीमार से पड़ते रहते हैं ।
सर्दी , खांसी , जुकाम , बुखार ,बलगम इस तरह की समस्याएं उन्हें होती रहती है क्योंकि उनका इम्यूनिटी सिस्टम ही कमजोर होता है तो ये आपकी इम्यूनिटी सिस्टम को भी ताकतवर बनाती है जिससे आप बार-बार बीमार नहीं पड़ते और इन जैसे रोगों से आसानी से बचे रहते हैं और आप काफी स्वस्थ रहते हैं । इसके अलावा सिर में दर्द, बदन में दर्द, पेट का इंफेक्शन ,यूरिन का इन्फेक्शन,इन सारी समस्याओं में भीये मेडिसन काफी फायदेमंद है.
इसके अलावा ये लीवर की कार्य क्षमता को बेहतर करती है। और खून की सफाई करती है और देखिए ये आपके पेट और आंतों को शुद्ध करती है हानिकारक पदार्थों को बाहर निकालकर बुखार को दूर करती है। तो देखा आपने महासुदर्शन घन वटी के कितने सारे फायदे हैं ये बुखार की समस्या के लिए कितनी ज्यादा फायदेमंद है

इसे कैसे बनाया जाता है

इसे बहुत सारी बेहतरीन जड़ी बूटियों को मिलाकर बनाया जाता है जिस कारण ये इतना ज्यादा फायदेमंद है जैसे – चिरायता ,दाल चीनी हल्दी ,दारू हल्दी ,त्रिफला ,कटहली, गिलोय, सोठ ,काली मिर्च ,पीपलामूल ,कुटकी ,नीम, मुलेठी, अजवाइन ,आदि बेहतरीन जड़ी बूटियों को मिलाकर इसे बनाया गया है

इसे कैसे लेना है

अब बात करते हैं कि आपको इसे कैसे लेना है तो देखिए आप इसकी एक से दो टेबलेट दिन में दो बार खाना खाने के बाद हल्के गुनगुने पानी या फिर दूध के साथ ले सकते हैं यानी आप इसे खाना खाने के आधे घंटे बाद ले सकते हैं ये आपकी प्रॉब्लम पर डिपेंड करता है अगर आपको प्रॉब्लम ज्यादा नहीं है तो आप इसकी एक टेबलेट सुबह और एक टेबलेट शाम को ले सकते हैं.

अगर आपको प्रॉब्लम ज्यादा है तो आप इसकी दो टैबलेट शाम को और दो टेबलेट सुबह ले सकते हैं देखिए यह डिपेंड करता है कि आपकी प्रॉब्लम कैसी है। इसे मेल या फीमेल कोई भी ले सकता है लेकिन अगर बात करें बच्चों की तो बच्चों को देने से पहले डॉक्टर से सलाह जरूर लें क्योंकि ये बच्चों की उम्र पर डिपेंड करता है साथ ही जो महिलाएं प्रेग्नेंट है वे भी से लेने से पहले डॉक्टर से सलाह अवश्य ले क्योंकि प्रेगनेंसी के दौरान कोई भी मेडिसन लेना सही नहीं होता अधिक जानकारी के लिए डॉक्टर से सलाह लें

side effect

अब बात करते हैं side effect की तो इसका कोई भी side effect देखने को नहीं मिलता लेकिन फिर भी इसे लेने के बाद अगर आपको हेल्प में कुछ इशु लगता है तो आप इसे लेना बंद कर सकते है या अधिक जानकारी के लिए डॉक्टर से सलाह ले सकते हैं

प्राइस

अब बात करते हैं इसके प्राईज तो इसका प्राइस ₹80 है जिसके अंदर आपको 60 टेबलेट देखने को मिलती है और आप इसे किसी भी पतंजलि स्टोर से खरीद सकते हैं या आप इसे घर बैठे भी ऑर्डर कर सकते हैं। देखिए यहां मैं आपको एक बात कहना चाहूंगा ये जो महासुदर्शन घन वटी है इसे और भी बहुत सारी कंपनियां बनाती है जैसे डाबर , वेदनाथ , पतंजलि आप किसी भी कंपनी का ले सकते हैं।
आप अपने खाने पर विशेष ध्यान रखें फास्ट फूड ना खाएं हेल्दी फूड खाएं टाइम पर खाइए और टाइम पर सोइए ,सुबह कसरत जरूरी करे ,दिनभर सही मात्रा में पानी पिए , जिससे आपका शरीर काफी स्वस्थ बना रहेगा और आप इस माहसुदर्शन घनवटी के काफी अच्छे फायदे ले पाएंगे । ये थी महासुदर्शन घन वटी की मुख्य जानकारी।